आगरा पुलिस ने दो करोड़ की देनदारी के चलते भागे परिवार को गुजरात से पकड़ा, वापस आगरा लेकर आई

आगरा । शहर से करीब सवा तीन माह से लापता दवा व्यापारी के पूरे परिवार को पुलिस ने गुजरात से खोज निकाला। व्यापारी पर लगभग दो करोड़ रुपये का बाजार का कर्जा हो गया था। देनदारी से बचने के लिए पूरा परिवार गुजरात के भावनगर में रह रहा था।

यह परिवार ट्रांस यमुना क्षेत्र से विगत 24 अप्रैल को लापता हो गया था। 106 दिन से लापता कारोबारी और उसके परिवार को पुलिस भावनगर से सकुशल यहां ले आई। दवा कारोबारी ने बताया कि उसका अपहरण नहीं हुआ था। वह खुद ही गया था। वह कर्ज में डूबा था, इसलिए उसने परिवार के साथ आगरा से भागने की योजना बनाई थी।

दरअसल, दवा व्यापारी राजेश शर्मा पिछली 15 अप्रैल को परिवार समेत नैनीताल घूमने गए थे। वह 23 अप्रैल तक परिजनों के साथ फोन पर संपर्क में थे। राजेश शर्मा के साथ पत्नी सीमा शर्मा, बेटी काव्या वशिष्ठ, बेटा अभिषेक वशिष्ठ, बहु उषा वशिष्ठ नैनीताल घूमने गए थे। साथ में अभिषेक का एक वर्षीय बेटा विनायक भी था। उन्होंने कहा था कि वह 23 अप्रैल को वापस आ जाएंगे। 24 अप्रैल को वह आगरा आए फिर यहां से जयपुर के लिए निकले। इसके बाद से उनका फोन बंद हो गया था।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *