नोटों की बारिश का झांसा देने वाला कैंडी बाबा गिरफ्तार

0
224

एक साल से ढूंढ रही थीं हरियाणा व पंजाब पुलिस

फरीदाबाद। तंत्रविद्या से लोगों के पैसे दोगुना करने वाले तथाकथित कैंडी बाबा उर्फ राजेश को फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। वह फरीदाबाद में भेष बदलकर छुपकर रह रहा था। उस पर शहर में विभिन्न थानों में धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज हैं। इसके साथ ही कैंडी और उसके साथियों पर हरियाणा और पंजाब के विभिन्न शहरों में धोखाधड़ी के साथ-साथ अवैध असलहा रखने की भी एफआईआर दर्ज है। पुलिस इसकी तलाश में एक साल से लगी हुई थी।
एसीपी क्राइम अनिल कुमार ने बताया कि कैंडी बाबा पंजाब के गांव शरीफगढ़ में अपना डेरा जमाए हुए था। उसपर नकली सोने का कारोबार करने के साथ-साथ नकली नोट भी खपाने का आरोप है। उस पर हरियाणा तथा पंजाब में दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं। फरीदाबाद पुलिस ने कैंडी को गिरफ्तार कर 10 दिन की पुलिस रिमांड पर के लिए लिया है। उन्होंने बताया कि मोहाली के सेक्टर-68 के चंद्र अग्रवाल तथा चंडीगढ़ के प्रोग्रेसिव सोसायटी सेक्टर-50 के गुरप्रीत सिंह ने भी राजेश उर्फ कैंडी के खिलाफ ठगी की शिकयत पर पुलिस ने रेड मारकर बाबा व इसके साथियों को नकदी, 32 बोर की पिस्तौल, 11 कारतूस व जादुई ट्रिक दिखाने वाले बॉक्स के साथ गिरफ्तार कर धारा 406, 420 तथा आर्म्स एक्ट की धारा 25, 54, 59 के तहत मामला दर्ज किया था।

अंधेरे कमरे में मोमबत्तियां जलाकर झांसा देता था
एसीपी क्राइम ने बताया कि कैंडी बाबा अंधेरे कमरे में मोमबत्तियां जलाकर पैसों की बरसात करने का झांसा देता था। ऐसा ही खेल बाबा ने कृष्ण कुमार निवासी अमरगढ़ गावड़ी के साथ खेला था। बाबा ने पहले कृष्ण कुमार के 10 रुपए के 140 रुपये बनाए और फिर 50 लाख रुपये मंगवाकर नोटों की बरसात करने का झांसा दिया। शिकायतकर्ता के अनुसार बाबा ने उसे अंधेरे कमरे में बुलाकर मोमबत्तियां जलाकर नोटों की बरसात की और नोट एकत्रित करने को कहा, जो बाद में मात्र 9 लाख 17 हजार निकले। बाद में बाबा ने कृष्ण से ही 40 लाख रुपये मंगवाए और करोड़ों की बरसात करने का झांसा दिया, लेकिन इसके बाद न कोई बरसात हुई और न कोई बाबा नजर आया। तांत्रिक ने कैथल निवासी रामचंद्र से भी 30 लाख के जेवर लिए थे और नए जेवर सस्ते में दिलाने का झांसा दिया था। बाद में रामचंद्र से 24 लाख लेकर मौके पर ही एक सोने की ईंट दी थी, जो नकली निकली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here