खनन माफियाओं ने सिपाही को रौंदा, मौत

0
175

आखिर क्यों नही रुक रहा अवैध खनन का काला कारोबार आखिर कितने और देंगे ईमानदार पुलिस कर्मी अपनी जान

मनीष गर्ग

आगरा। खेरागढ़ में रविवार की सुबह खनन माफिया के गुर्गे ने सिपाही सोनू कुमार चौधरी की ट्रैक्टर चढ़ाकर हत्या कर दी। वह सैंया थाने में तैनात थे। सिपाही को ट्रैक्टर के नीचे दबा छोड़कर गुर्गे फायरिंग करते हुए भाग गए। सिपाही को खून से लथपथ देखकर साथ गए पुलिस कर्मियों के होश उड़ गए। सूचना पर जिलेभर का फोर्स मौके पर पहुंचा। एसएसपी के अवकाश पर होने के चलते एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद मौके पर पहुंचे। हत्यारोपियों की तलाश की जा रही है।
घटना सुबह करीब पांच बजे की है। सैंया थाना पुलिस को सूचना मिली कि राजस्थान की ओर से अवैध खनन की बालू लेकर ट्रैक्टर ट्राली गुजरने वाली हैं। सैंया थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर अमित कुमार जो कि लादूखेड़ा चौकी प्रभारी हैं, कांस्टेबल सोनू कुमार चौधरी, सुधीर, सूरज, सुनील और शिशुपाल थाने की गाड़ी से चेकिंग के लिए निकले। पुलिस ने खेरागढ़-सैंया मार्ग पर चेकिंग शुरू कर दी। उस समय कोई गाड़ी वहां से नहीं गुजरी।

पुलिस टीम के वापस लौटने के दौरान खेरागढ़ थाना क्षेत्र के गांव सोन का बड़ा नगला के पास पांच- छह ट्रैक्टर-ट्राली दिखे। पुलिस कर्मी जीप से उतर आए। सिपाही सोनू कुमार चौधरी ने ट्रैक्टरों को रोकने के लिए हाथ से इशारा किया। अन्य पुलिस कर्मी किनारे पर खड़े थे। एक चालक ने ट्रैक्टर सिपाही के ऊपर चढ़ा दिया। यह देख पुलिस कर्मियों के होश उड़ गए। वे कुछ करते इससे पहले माफिया के गुर्गे फायरिंग करते हुए दूसरे ट्रैक्टरों से भाग गए। पुलिस कर्मी उनका पीछा करने की हिम्मत तक नहीं जुटा पाए।
गोलियों की आवाज से ग्रामीण जमा हो गए। ग्रामीणों ने जख्मी सिपाही को ट्रैक्टर के नीचे से निकाला। सोनू को अस्पताल पहुंचाने का मौका तक नहीं मिला। उन्होंने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सूचना ने पुलिस अधिकारियों के होश उड़ा दिए। कुछ ही देर में घटना स्थल पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि शहीद हुए सिपाही सोनू कुमार चौधरी अलीगढ़ के जट्टारी के रहने वाले थे। वर्ष 2018 में पुलिस में भर्ती हुए थे।

अलीगढ़ का था लाल सिपाही सोनू


सिपाही सोनू कुमार चौधरी अलीगढ़ के जट्टारी के रहने वाले थे।वह वर्ष 2018 में पुलिस में भर्ती हुए थे।कुछ समय पहले ही हुई थी शादी।
सोनू की पत्नी और सोनू एक साथ ही सैयां रहते थे।
सोनू के छोटे भाई भारतीय सेना में दे रहे हैं अपनी सेवा
सोनू के पिता पेशे से किसान थे उनका देहांत लगभग एक साल पहले हार्टअटैक से हो गया।

योगी सरकार में लगातार पुलिस के इकबाल को दे रहे चुनौती
उत्तर प्रदेश में पुलिस के इकबाल को लगातार चुनौती दी जा रही है। कानपुर के चौबेपुर के बिकरू गांव के बाद अब आगरा में पुलिस टीम पर हमला बोला गया। आगरा के खैरागढ़ में खनन माफिया गे कुछ गुर्गों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। इस दौरान इन लोगों ने ट्रैक्टर चढ़ाकर सिपाही की हत्या कर दी और फायरिंग करते हुए फरार हो गए। अब पुलिस यहां पर लकीर पीटने में लगी है। 

गांव से निकलते हैं खनन माफिया
हाईवे के टोल प्लाजा और सैंया चौराहा को बचाने के लिए वह गांव के लिंक रोड से निकल रहे थे। राजस्थान से अवैध खनन कर बालू ले जाने वाले माफिया के ट्रैक्टर ट्राली गांवों की पगडंडियों से होकर गुजरते हैं। इनके आगे एक गाड़ी एस्कोर्ट करती हुई चलती है। यह लोग गाड़ी रोकने पर फायरिंग कर देते हैं। इससे पहले भी कई बार घटनाएं हो चुकी हैं।

अब जोरों पर दबिश
पुलिस इस घटना के बाद अब खनन माफिया के गुर्गों की तलाश में दबिश दे रही है। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया खनन माफिया ने ट्रैक्टर-ट्रॉली चढ़ाकर सिपाही की हत्या की है। हम सभी आरोपियों को जल्द ढूंढ कर सख्त से सख्त कार्रवाई करेंगे। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद पूरे जिले की फोर्स के साथ पहुंचे हैं। आसपास के क्षेत्र में खनन माफिया के गुर्गों की तलाश की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here