आगरा के लिए खुशखबरी : लॉकडाउन 4.0 के बाद खुलेंगे ताजनगरी के बाजार, डीएम ने दिए निर्देश

0
313
लाक डाउन का काउन्ट डाउन शुरू

आगरा। जैसे देहात में रोस्टर बनाकर बाजार खोले गए हैं, उसी प्रकार शहर में 31 मई के बाद बाजार खोलने की अनुमति दी जाएगी। जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह का कहना है कि रोस्टर तैयार किया जाएगा। कपड़ा, किराना, इलेक्ट्रॉनिक्स, मिठाई सहित सभी दुकानों के खुलने के लिए अलग-अलग दिन निर्धारित किए जाएंगे। जो भी दफ्तर भी खुलेंगे उनमें 50 फीसदी स्टाफ ही कार्य करेगा।

आगरा में कोरोना पॉजिटिव मरीजों को संख्या में तेजी से गिरावट आ रही है। ठीक होने वालों की संख्या अधिक है। अस्पतालों में कुल मरीज 90 से कम रह गए हैं। ये माना जा रहा है कि 31 मई तक स्थिति और सामान्य हो जाएगी। लॉकडाउन के आगे बढ़ने के भी संकेत नहीं मिले हैं। देहात में बाजार खोले ही जा चुके हैं।

संक्रमित अधिक होने के कारण शहर को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया था। डीएम प्रभु एन सिंह का कहना है कि स्थिति इसी तरह सामान्य रहती है तो 31 मई के बाद शहर में भी बाजार खुलेंगे।

जरूरी सामानों की दुकानें ज्यादा दिन खुलेंगी
किस दिन, क्या दुकान खुलेंगी, इसका रोस्टर बनाया जाएगा। इसके लिए योजना बनाई जा रही है। जरूरत के सामान की दुकानों को सप्ताह में दो या तीन दिन भी खोला जा सकेगा। अन्य दुकानों को कम दिनों के लिए खोला जाएगा।

बच्चे और बुजुर्ग नहीं जाएंगे.
बाजारों में बच्चे और बुजुर्ग नहीं जाएंगे। इनके घर से निकलने पर पाबंदी लगाई गई है। इनके संक्रमण की चपेट में जल्दी आने का खतरा रहता है। इस कारण इन्हें कोई छूट नहीं दी जाएगी।

रेस्तरां से होम डिलीवरी ही होगी.
रेस्टोरेंट भी खुलेंगे, लेकिन इनमें बैठकर खाने की सुविधा नहीं मिलेगी। सिर्फ होम डिलीवरी होगी। कंटेनमेंट जोन से बाहर यह अनुमति पहले ही दी जा चुकी है।

ग्रीन जोन होने का इंतजार.
नगर निगम का पूरा इलाका कंटेनमेंट जोन है। इसके ग्रीन जोन में बदलने का इंतजार है। जैसे ही एक्टिव केस 20 या उससे कम हो जाएंगे, शहर ग्रीन जोन में बदल जाएगा। देहात के 90 फीसदी इलाके पहले से ग्रीन जोन हैं। बाह, किरावली, एत्मादपुर, फतेहाबाद तहसील में रोस्टर से बाजार खुल रहे हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here