ए भाई जरा संभलकर……

Sumit Garg
2 Min Read

शिवम गर्ग,अग्रभारत

सड़क में गड्ढे या गड्ढों में सड़क , जान पाना है बहुत मुश्किल

जानलेवा भी साबित हो रहे हैं घिरोर – जसराना मार्ग के गड्ढे

घिरोर – बर्षा शुरू होते ही सड़को के बड़े – बड़े गड्ढों से गुजरने वाले वाहन चालकों को हादसे का शिकार होना पड़ता है। वही स्थिति तो कई महीनों से खराब है । राहगीर वाहन चालक निकलते रहे लेकिन बड़े गड्ढा होने के वाद सड़क से गुजरना मुस्किल हो गया है। गड्ढों की वजह से कई लोग गंभीर रूप से चोटिल हो चुके हैं वहीं कुछ लोगों को अपनी जान भी गंवानी पड़ी है ।

See also  भारी वाहनों पर कस्बे में रोक के लिए व्यापार मंडल ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

घिरोर से जसराना जाने वाले मार्ग पर मैनपुरी की हद में लगभग 7 किलो मीटर की दूरी पर इतने गड्ढा हो चुके है। आए दिन वाहन चालक गिरकर हादसे के शिकार हो रहे है। ग्रामीण मुकेश सक्सेना,कमलेश चौहान,अवधेश यादव ,जयवीर सिंह शाक्य, आदि लोगो का कहना है। कि कई महीनों से गड्डायुक्त सड़क थी बर्षा होने के पश्चात बड़े गड्ढा हो गए है। जिसके चलते लोगो को चोटिल होना पड़ता है। साथ ही शाम को अंधेरा होते ही राहगीरों को अधिक परेशानी होती है। जिसके चलते गड्ढा दूर से दिखाई नही देते है। जिसके चलते हादसे के शिकार हो जाते है।
वही राहगीरों का कहना है कि फिरोजाबाद की सीमा में वाहन चालक तेज रफ्तार में आते है। जैसे ही मैनपुरी की सीमा में आते हैं तो रफ्तार थामनी पड़ती है। नहीं तो हादसे का शिकार होना पड़ता है। आसपास के लोगों ने शासन प्रशासन से सड़क बनवाने की मांग की है ।

See also  भाजपा लोकतंत्र का गला घोट रही है तो अन्य प्रदेशों में कैसे बनी भाजपा की सरकारें - राजनाथ सिंह रक्षा मंत्री भारत

 

फोटो – घिरोर से जसराना रोड़ गड्ढों में तब्दील सड़क।

See also  गैंगस्टर में वांछित को भेजा जेल
Share This Article
Follow:
प्रभारी-दैनिक अग्रभारत समाचार पत्र (आगरा देहात)
Leave a comment

Leave a Reply

error: AGRABHARAT.COM Copywrite Content.