कृमि मुक्ति दिवस पर खिलाई एल्बेंडाजोल की दवा

Sumit Garg
2 Min Read

कृमि मुक्ति दिवस पर खिलाई एल्बेंडाजोल की दवा
किरावली। ब्लॉक अछनेरा अंतर्गत प्राथमिक विद्यालय ब्यारा में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इसमें बच्चों को एल्बेंडाजोल की दवा खिलाई गई। साथ ही स्वच्छ रहने के प्रति जागरूक किया गया।
कार्यक्रम का शुभारंभ डिप्टी सीएमओ डॉ नंदन सिंह ने फीता काटकर किया। उन्होंने राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस की महत्वता पर जोर डालते हुये बताया कि 1 साल से 19 साल तक के बच्चों को पेट कीड़े की दवा जरूर खानी चाहिए। अधिकांश बच्चों में पेट से संबंधित अधिक बीमारियों का खतरा होता है। जिस वजह से बच्चों में खून की कमी, कुपोषण, मितली, उल्टी व दस्त होना तथा वजन में कमी होना जैसे दुष्प्रभाव होते है क्योंकि ज्यादातर बच्चे बाहर खेलते समय कब किस चीज को हाथ लगाते हैं। उनको पता ही नही होता है। उन्हीं गंदे हाथों से घर की सारी चीजों को छूना, बिना हाथ पैर धोकर कुछ भी खा लेना, बिना ढका हुआ पानी पीना इन्हीं सब लापरवाही की वजह से बच्चों के पेट में बीमारियों होती हैं। जो कभी-कभी घातक भी साबित हो सकता है। इसी को ध्यान में रखते हुए 1 साल से 19 साल तक के बच्चों को साल में दों बार एल्बेंडाजोल की दवा खिलाई जाती है। सीएचसी अधीक्षक अछनेरा डॉ जितेंद्र लवानिया ने सभी लोगों से अपील की, कि एक वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों को एल्बेंडाजोल की दवा खिलाकर कार्यक्रम को सफल बनाए। उन्होंने बताया कि जो बच्चे आज किसी कारणवश एल्बेंडाजोल की दवा नहीं खा पाए हैं, उन्हें आगामी दिवसों में दवा खिलाई जाएगी। इस मौके पर ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि महाराज सिंह, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी विपिन बिहारी मिश्रा आदि मौजूद रहे।

See also  लखनऊ जेल में बंद पुलिस वाले की बर्बरतापूर्ण पिटाई, जांच और कार्रवाई की मांग

See also  जीडी गोयनका जूनियर विज आगरा टीचर्स क्लब ने गोयनका गोट टैलेंट का किया आयोजन
Share This Article
Follow:
प्रभारी-दैनिक अग्रभारत समाचार पत्र (आगरा देहात)
Leave a comment

Leave a Reply

error: AGRABHARAT.COM Copywrite Content.