रोड एक्‍सीडेंट में कुचला चेहरा टूटी खोपड़ी कटी जीभ फिर 12 डॉक्‍टरों ने किया कुछ ऐसा

Dharmender Singh Malik
2 Min Read

नई दिल्ली। जीवन बचाने वाले डॉक्‍टरों को यूं ही भगवान नहीं कहा जाता है। हाल ही में दिल्‍ली हुई इस घटना के बाद दिल्‍ली के सर गंगाराम अस्‍पताल के डॉक्‍टरों ने ये साबित कर दिया है। अस्‍पताल के 12 डॉक्‍टरों की टीम ने सड़क पर हुए एक भीषण एक्‍सीडेंट की बेहद जटिल सर्जरी करके 20 साल के युवक की जान बचाई है।

बाइक चलाते समय हुए खतरनाक रोड एक्‍सीडेंट में लगभग मरणासन्‍न स्थिति में पहुंच चुके इस युवक के चेहरे पर 16 फ्रैक्चर थे और जीभ दो टुकड़ों में कट गई थी। उसके होंठ बुरी तरह फट गए थे खोपड़ी भी टूट चुकी थी। ऐसी स्थिति में अस्‍पताल में आए इस केस को देखकर एक बार तो डॉक्‍टर भी हैरान थे। हालांकि सर गंगा राम अस्पताल के डिपार्टमेंट ऑफ़ प्लास्टिक एंड कॉस्मेटिक सर्जरी के डॉक्‍टरों ने इस व्‍यक्ति को बचा लिया।

See also  UP कांग्रेस के पदाधिकारियों की नई टीम का हुआ गठन, जातीय और सामाजिक समीकरणों के तहत दी गई जिम्मेदारी

युवक का इलाज करने वाले सर गंगाराम अस्‍पताल के डिपार्टमेंट ऑफ़ प्लास्टिक एंड कॉस्मेटिक सर्जरी के सीनियर कंसल्‍टेंट डॉ। भीम सिंह नंदा ने बताया ‘जब हम मरीज के पास पहुंचे तो उसकी हालत बेहद खराब थी। उसे सिर और जबड़ों (मैक्सियो-फेशियल में गंभीर चोट लगी थी। जबड़े के टेम्पोरो-मैंडीबुलर जोड़ के खिसकने के साथ-साथ चेहरे पर लगभग 16 मुख्य हड्डियां और सिर में फ्रैक्चर थे। मुंह की हड्डियां चूर-चूर हो गई थीं। जीभ दो टुकड़ो में कटी हुई थी।’

डॉ. ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत प्लास्टिक एंड कॉस्मेटिक सर्जरी और न्यूरो सर्जन की 10 डॉक्टरों की एक संयुक्त टीम बनाई गई। मरीज को तुरंत पुनर्जीवित करने के लिए जीवन रक्षक उपाय के रूप में कृत्रिम श्वास नली लगाई गई।

See also  AGRA NEWS: विश्वविद्यालय मे साथी- सहयोगी कार्यक्रम का शुभारंभ

See also  आगरा में महाराजा अग्रसेन जयंती महोत्सव: अग्रोहा धाम की झलक दिखाएंगे दर्जनों सजी झांकियां
Share This Article
Editor in Chief of Agra Bharat Hindi Dainik Newspaper
Leave a comment

Leave a Reply

error: AGRABHARAT.COM Copywrite Content.