बहराइच में सांसद विकास योजना के दो परियोजनाओं में लाखों का घोटाला, पैक्सपेड अधिशाषी अभियंता पर केस दर्ज

Jagannath Prasad
4 Min Read

बहराइच : यूपी के बहराइच जिले में सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना के तहत दो परियोजनाओं में लाखों का घोटाला सामने आया है। बिना कार्य करवाए ही पैसा हड़प लिया गया। पैक्सपेड के अधिशाषी अभियंता पर दो विकास परियोजनाओं के बजट के गबन का आरोप लगा है। इस मामले में जांच के बाद डीएम मोनिका रानी के निर्देश पर परियोजना निदेशक की तहरीर पर पुलिस ने धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। अभियंता पर धोखाधड़ी का केस दर्ज होने के बाद विभागीय कर्मचारियों में हड़कंप मचा है।

जानकारी के अनुसार, बहराइच में मोहल्ला सरयू नगर में स्थित ग्रीन सिटी कालोनी में पार्क के निकट स्थित नाली से रणविजय सिंह के मकान से होते हुए सुबोध चन्द्रा के प्लाट तक पक्की नाली का निर्माण और ग्राम पंचायत जमदान के भंगहर में पक्की सड़क से ओमकार नाथ वर्मा के मकान तक इंटरलाकिंग के निर्माण कार्य को सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना के प्रस्ताव पर जिलाधिकारी ने स्वीकृति प्रदान की थी।

See also  शादी के दूसरे दिन ही हुई दुल्हन की मौत, मचा कोहराम

कार्य को पूरा करवाने की जिम्मेदारी कार्यदायी संस्था उत्तर प्रदेश सहकारी विधायन एवं शीतगृह संघ लि. (पैक्सफेड) को मिली थी। लेकिन जिलाधिकारी द्वारा स्वीकृति प्रदान किए गए विकास कार्य को कराए गए बिना ही निर्माण का पैसा निकाल लिया गया। जांच में इसकी पुष्टि होने के बाद हड़कंप मचा है।

जांच में पता चला कि दोनों परियोजनाओं की कुल स्वीकृत धनराशि 16 लाख 99 हजार 376 रुपए के सापेक्ष प्रथम किस्त की धनराशि 10 लाख 19 हजार 626 रुपए अवमुक्त कर दिए गए थे। लेकिन विकास कार्य निर्माण के बिना ही रुपये को निकालकर खर्च कर लिया गया।

स्थानीय नागरिकों ने इस मामले में सांसद बहराइच अक्षयबर लाल गौड से शिकायत की थी। सांसद ने जिलाधिकारी मोनिका रानी को मामले से अवगत कराया तो डीएम ने परियोजना निदेशक से मामले की जांच करवाई। जांच में दोनों परियोजनाओं में घोटाले की पुष्टि हुई। स्थलीय सत्यापन में मौके पर कोई भी निर्माण कार्य नहीं मिला। परियोजना निदेशक ने इसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंपी।

See also  शीश दिया पर सी ना उचरी, धर्म हेतु साका जिन किया

डीएम के आदेश पर दोनों परियोजनाओं के धन गबन के मामले में दोषी पैक्सफेड अधिशाषी अभियंता दिलीप शुक्ला से स्पष्टीकरण तलब किया गया, लेकिन दोषी अभियंता सही जवाब नहीं दे सके। परियोजना निदेशक राजकुमार ने बताया कि सही जवाब न मिलने पर दोनों परियोजनाओं के धन की रिकवरी के लिए पत्र जारी किया गया लेकिन पैक्सफेड अभियंता की ओर से दोनों परियोजनाओं का बजट की अवमुक्त पहली किस्त वापस नहीं किया गया।

इसके बाद जिलाधिकारी मोनिका रानी के निर्देश पर परियोजना निदेशक ने पैक्सपेड के अधिशासी अभियन्ता दिलीप शुक्ला के खिलाफ कोतवाली देहात में सरकारी धन के गबन और धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया गया है। कोतवाली देहात के इंस्पेक्टर ब्रह्मा गौड़ ने बताया कि केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

See also  आगरा न्यूज: सिख यूथ वेलफेयर ऑर्गेनाइज़ेशन द्वारा लगाया गया रक्तदान शिविर, 68 रक्त दाताओं ने अपना रक्त दान किया

मामले में लगे हैं ये आरोप 

  • पैक्सपेड अधिशाषी अभियंता दिलीप शुक्ला ने सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना के तहत दो परियोजनाओं के बजट का गबन किया है।
  • दोनों परियोजनाओं की कुल स्वीकृत धनराशि 16 लाख 99 हजार 376 रुपए के सापेक्ष प्रथम किस्त की धनराशि 10 लाख 19 हजार 626 रुपए अवमुक्त कर दिए गए थे।
  • लेकिन विकास कार्य निर्माण के बिना ही रुपये को निकालकर खर्च कर लिया गया।
  • स्थलीय सत्यापन में मौके पर कोई भी निर्माण कार्य नहीं मिला।

मामले की जांच जारी

कोतवाली देहात के इंस्पेक्टर ब्रह्मा गौड़ ने बताया कि केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि जांच के बाद दोषी पाए जाने पर अभियंता के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

See also  विवेचक दरोगा की अभद्र भाषा से पीड़ित वृद्ध महिला हुई आहत
Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

error: AGRABHARAT.COM Copywrite Content.