पुलिस को 20 साल तक छकाता रहा 25 हजार का इनामी हत्यारोपी, अब आया गिरफ्त में

Dharmender Singh Malik
2 Min Read
20 साल से फरार चल रहे 25 हजार के इनामिया हत्यारोपी की गिरफ्तारी की जानकारी देते पुलिस अधिकारी।

2004 में मोनिका टायर फैक्ट्री कोटवन में हुई चैकीदार की हत्या में था वांछित

 

मथुरा। 2004 में मोनिका टायर फैक्ट्री कोटवन कोसीकला में हुई चैकीदार की में वांछित हत्यारोपी की 20 साल तक मथुरा पुलिस टेह नहीं ले सकी। 25 हजार इनामिया फरार हत्यारोपी तक पहुंचने में मथुरा पुलिस को पूरे 20 साल लग गये। हालांकि अब लोकनाथ उर्फ जयप्रकाश सिंह पुत्र शुभनारायण सिंह उर्फ हरि सिंह निवासी वैश्याटोला दाऊदपुर थाना दाऊजपुर जनपद सारेण बिहार अब पुलिस की गिरफ्त में है। जिस समय हत्या की यह घटना हुई लोकनाथ 20 वर्ष का युवक था, अब वह 38 वर्ष का अधेड हो चला है।

See also  चंबल सेंड गायब, डस्ट का खेल: सत्ताधारी ठेकेदार की करतूत आई सामने!

प्रभारी थाना कोसीकला अनुज कुमार के मुताबिक मथुरा पुलिस थाना छपरा जिला सोरण पहुंची, जहां से स्थानीय पुलिस टीम को साथ लेकर पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया।

अभियुक्त ने वर्ष 2004 में मोनिका टायर फैक्ट्री कोटवन में अपने दोस्तों के साथ मिलकर सुरेश शर्मा नाम के चैकीदार की हत्या की थी, जिसके बाद पटना में मेडिसिन कम्पनी एसएमजीएल में सिक्योरिटी गार्ड का काम किया, उसके बाद वर्ष 2010 में गांव में रहकर शादी की फिर छपरा मेडिकल कालेज में सिक्योरिटी गार्ड का काम किया तथा फिलहाल दो साल से बृज किशोर इंडियन गार्डन स्कूल में सिक्योरिटी गार्ड का काम कर रहा था।

See also  बबीता शल्या ने भाजपा प्रत्याशी फतेहाबाद नगर पंचायत अध्यक्ष पद हेतु किया नामांकन

अपना और पिता का बदल लिया था नाम
अभियुक्त ने अपनी पहचान छिपाने के लिए फर्जी दस्तावेज बनवाकर अपना लोकनाथ से बदलकर जयप्रकाश सिंह तथा पिता का नाम हरी सिंह उर्फ शिवे नारायण करवा लिया था। इन्हीं छंदम नामों से वह यहां वहां नौकरी और दूसरे काम करता रहा।

See also  कल शनिवार को कस्बे में लगेगा निशुल्क स्वास्थ्य शिविर, हड्डी रोग एवं स्त्री रोग के विशेषज्ञ रहेंगे मौजूद
Share This Article
Editor in Chief of Agra Bharat Hindi Dainik Newspaper
Leave a comment

Leave a Reply

error: AGRABHARAT.COM Copywrite Content.