भारतीयों ने करोडों खर्च कर दिए ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट और कॉस्‍मेटिक्‍स पर, मात्र 6 महीने में खर्च कर डाले 5 हजार करोड़

Dharmender Singh Malik
3 Min Read

नई दिल्‍ली। बीते सालों में एक ओर दुनिया महामारी से उबरने और महंगाई से जूझने में जुटी है तो दूसरी ओर भारतीयों ने हजारों करोड़ ऐसे प्रोडक्‍ट पर खर्च कर दिए जिसे आम आदमी अपने महीने की लिस्‍ट में शामिल भी नहीं करता है। कंतार वर्ल्‍डपैनल ने एक स्‍टडी में इसका खुलासा किया है।

इस स्‍टडी में कहा गया है कि भारतीय लोगों ने बीते 6 महीने में मोबाइल और कार के बजाए ऐसी चीज पर हजारों करोड़ रुपये खर्च किए हैं, जिसे आम आदमी जरूरी भी नहीं समझता है। यह चीज और कुछ नहीं, बल्कि ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट और कॉस्‍मेटिक्‍स हैं। वह भी लाख या करोड़ के नहीं, बल्कि पूरे 5 हजार करोड़ रुपये के हैं।

See also  Agra News : पुलिसकर्मी महिला के साथ कार में मना रहा था रंगरलियां, सीओ ने पकड़ा , आपत्तिजनक हालत में थे दोनों ...

महत्‍वपूर्ण बात ये है कि यह आंकड़ा पूरे देश का नहीं, बल्कि दिल्‍ली-मुंबई जैसे टॉप 10 शहरों का ही है। इन शहरों में 6 महीने के दौरान 10 करोड़ से ज्‍यादा कॉस्‍मेटिक प्रोडक्‍ट बेचे गए हैं। इसमें लिपस्टिक, नेल पॉलिश और आई लाइनर जैसे प्रोडक्‍ट शामिल हैं। इस दौरान कुल 5 हजार करोड़ रुपये खर्च किए गए, जिसमें से 40 फीसदी प्रोडक्‍ट ऑनलाइन खरीदे गए हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक यह खरीदारी ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीकों से की गई है। ऑफिस जाने वाली महिलाओं ने अन्‍य खरीदारों की तुलना में 1.6 गुना ज्‍यादा पैसे कॉस्‍मेटिक्‍स पर खर्च किए हैं। वल्ड्रपेनल डिवीजन के एमडी रामकृष्‍णन का कहना है कि जैसे-जैसे महिलाएं जॉब पर लौट रही हैं, कॉस्‍मेटिक की खपत और खरीदारी भी बढ़ती जा रही है।

See also  YOLO or FOMO? Why Today's Youth Risk Losing Their Spark

रिपोर्ट में कहा गया है कि इंडियंस ने कलर कॉस्‍मेटिक्‍स पर खर्चा लगातार बढ़ता ता रहा है। बीते 6 महीने में कलर कॉस्‍मेटिक्‍स पर औसतन 1,214 रुपये खर्च किए गए हैं। इसमें भी लिप प्रोडक्‍ट की हिस्‍सेदारी 38 फीसदी है। इसके बाद नंबर आता है नेल पॉलिश जैसे प्रोडक्‍ट का, जो बताता है कि भारतीय अपने ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट को लेकर काफी विविधता अपना रहे हैं।

रेनी कॉस्‍मेटिक्‍स के फाउंडर आशुतोष वलानी का कहना है कि अब नए-नए ब्रांड के प्रोडक्‍ट मार्केट में आ रहे और लोग भी इन्‍हें हाथों हाथ ले रहे हैं। प्रोडक्‍ट की खरीद बढ़ाने में सोशल मीडिया काफी मददगार साबित हो रहा है और ज्‍यादातर प्रोडक्‍ट ऑनलाइन ही मंगाए जा रहे हैं।रिपोर्ट में कहा गया है कि लोग अब पारंपरिक प्रोडक्‍ट को छोड़कर अलग तरीके के ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट भी पसंद कर रहे हैं। पारंपरिक प्रोडक्‍ट जैसे काजल, लिपस्टिक के अलावा प्राइमर, आई शैडो और कॉन्‍क्‍लीयर जैसे प्रोडक्‍ट भी अब लोगों की पसंद में शामिल हो रहे हैं।

See also  सबके सामने महिला विदेश मंत्री को जबरदस्ती चूम दिया, वीडियो सामने आने के बाद हंगामा

See also  YOLO or FOMO? Why Today's Youth Risk Losing Their Spark
Share This Article
Editor in Chief of Agra Bharat Hindi Dainik Newspaper
Leave a comment

Leave a Reply

error: AGRABHARAT.COM Copywrite Content.