आगरा मेट्रो: प्रायोरिटी कोरिडोर के भूमिगत भाग में रिकॉर्ड टाइम में निर्माण कार्य पूर्ण – अप लाइन के बाद डाउन लाइन में ट्रैक का निर्माण हुआ पूरा

Faizan Khan
3 Min Read

आगरा। उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने आगरा मेट्रो प्रायोरिटी कॉरिडोर में ताज ईस्ट गेट से जामा मस्जिद मेट्रो स्टेशन तक अप लाइन के बाद डाउन लाइन में ट्रैक का निर्माण पूरा कर लिया है। फिलहाल, यूपी मेट्रो द्वारा अपलाइन में ताज ईस्ट गेट से जामा मस्जिद मेट्रो स्टेशन के बीच लगातार ट्रायल किया जा रहा है, जबकि डाउन लाइन में जामा मस्जिद से आगरा फोर्ट के बीच ट्रायल किया जा रहा है। जल्द ही पूरे प्रायोरिटी कॉरिडोर में आगरा मेट्रो ट्रेन का ट्रायल किया जाएगा।

बता दें कि प्रायोरिटी कॉरिडोर में 6 स्टेशन है. इसमें तीन अंडरग्राउंड स्टेशन और तीन एलिवेटेड स्टेशन है. इसमें एलिवेटेड क्षेत्र का कार्य पहले ही पूरा किया चुका है. एलिवेटेड ट्रैक पर मेट्रो का ट्रायल पहले से ही फुल स्पीड में जारी है। वहीं, अंडरग्राउंड क्षेत्र में भी निर्माण कार्य पूर्ण हो चुके हैं। फिलहाल, भूमिगत मेट्रो स्टेशनों का फिनिशिंग कार्य भी अंतिम चरण है। प्रायोरिटी कॉरिडोर के भूमिगत भाग में जल्द ही ट्रायल शुरू किया जाएगा।

See also  मेरठ में दरिंदगी की हद पार; युवती को नंगा करके VIDEO बनाते रहे युवक, किया वायरल

गौरतलब है कि फरवरी में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा टीबीएम लॉन्च के उद्घाटन के 11 महीने से कम समय में यूपी मेट्रो ने टनल निर्माण का पूरा किया है। 6, फरवरी, 2023 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्योगी आदित्यनाथ द्वारा टीबीएम यमुना की लॉन्चिंग के साथ प्रायोरिटी कॉरिडोर के भूमिगत सेक्शन में टनल कार्य का शुभारंभ किया किया गया था।

भूमिगत मेट्रो स्टेशन और टनल निर्माण के काम में औसतन एलिवेटेड स्टेशनों की तुलना में तीन गुना समय लगता है। हालांकि, आगरा मेट्रो टीम ने इस कार्य को महज 11 महीने के रिकॉर्ड समय में ही पूरा कर लिया, जिसमें टीबीएम के माध्यम से टनल निर्माण, ट्रैक और थर्ड रेल बिछाने के काम व सुचारू और सुरक्षित ट्रेन आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए सिग्नलिंग के काम शामिल थे।

See also  जन शिक्षण संस्थान द्वारा दीक्षांत समारोह का किया आयोजन

उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन आगरा के लोगों को निर्धारित समय सीमा से पहले एक विश्व स्तरीय मेट्रो रेल प्रणाली देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।

गौरतलब है कि ताजनगरी में 29.4 किमी लंबे दो कॉरिडोर का मेट्रो नेटवर्क बनना है, जिसमें 27 स्टेशन होंगे। ताज ईस्ट गेट से सिकंदरा के बीच 14 किमी लंबे पहले कॉरिडोर का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है. इस कॉरिडोर में 13 स्टेशनों का निर्माण होगा। जिसमें 6 एलीवेटिड जबकि 7 भूमिगत स्टेशन होंगे. इस कॉरिडोर के लिए पीएसी परिसर में डिपो का निर्माण किया जा रहा है।

इसके साथ ही आगरा कैंट से कालिंदी विहार के बीच लगभग 16 कि.मी. लंबे दूसरे कॉरिडोर का निर्माण किया जाएगा, जिसमें 14 ऐलीवेटेड स्टेशन होंगे।

See also  असफलता से मिली सफलता, चांद के भाल पर भारत का तिलक

See also  मामूली विवाद में जमकर हुई फायरिंग में पिता-पुत्र की मौत, 3 लोग हुए घायल
TAGGED: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,
Share This Article
Follow:
फैजान खान- संवाददाता दैनिक अग्र भारत समाचार ।
Leave a comment

Leave a Reply

error: AGRABHARAT.COM Copywrite Content.