मथुरा: समाधान दिवस में युवक ने खुद को लगाई आग, अवैध कब्जे का आरोप लगाया

मथुरा: समाधान दिवस में युवक ने खुद को लगाई आग, अवैध कब्जे का आरोप लगाया

Dharmender Singh Malik
2 Min Read
तहसील दिवस में ज्वलनशील पदार्थ की बोतल लेकर बैठा युवक। फोटो अग्र भारत

मथुरा: महावन तहसील पर लगे समाधान दिवस में पहुंचे युवक ने ज्वलनशील पदार्थ उड़ेल कर खुद को आग लगाने का प्रयास किया। वह खुद को आग लगाता इससे पहले मौके पर मौजूद लोगों और कर्मचारियों ने उसे रोक लिया। बताया जा रहा है कि युवक ने ज्वलनशील पदार्थ पी भी लिया था। युवक को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया।

युवक का आरोप

03 uphmathura 01 मथुरा: समाधान दिवस में युवक ने खुद को लगाई आग, अवैध कब्जे का आरोप लगाया
तहसील दिवस में आत्मदाह की कोशिश करने वाला युवक। फोटो अग्र भारत

रविंद्र पुत्र सुरेश निवासी नगला गिरधर थाना बलदेव का कहना था कि अवैध कब्जे की शिकायत पर उसके घर और भूमि पर राजस्व टीम ने बुलडोजर चला दिया और चक मार्ग निकलवा दिया। इस कार्रवाई से संतुष्ट नहीं था तथा राजस्व कार्यवाही की पुनः जांच पड़ताल करने की शिकायत उच्चाधिकारियों से की। लेकिन कोई कार्यवाही नहीं की गई। हाल ही में शिकायतकर्ता द्वारा वृक्षारोपण की जमीन पर कब्जा की शिकायत उसके खिलाफ की गई है। इससे आहत होकर उसने यह कदम उठाया है।

See also  काॅरिडोरः अफवाहों पर ध्यान न दें, घबराने की जरूरत नहीं,सकारात्मक सोच के साथ होगा वृन्दावन का विकासः डीएम

बिना पक्ष रखे अचानक अपने ऊपर डाला पेट्रोल

तहसीलदार सुशील गुप्ता ने बताया कि युवक ने बिना कोई अपना पक्ष रखे अचानक अपने ऊपर पेट्रोल छिड़काव कर लिया लेकिन पुलिस और डॉक्टर की सतर्कता चलते स्थित को काबू कर लिया गया। युवक का आरोप निराधार है। गजबीर पुत्र बच्चू सिंह निवासी नगला गिरधर की शिकायत पर पूर्व में राजस्व टीम द्वारा चक मार्ग पर माप तोल कर अवैध कब्जा हटवा कर चक मार्ग निकलवाया गया था।

मामले की होगी जांच

तहसीलदार ने बताया कि वृक्षारोपण की जमीन पर कब्जे की शिकायत फिर से की गई है, जिसकी जांच चल रही है। जांच के प्रति रविंद्र को भी निष्पक्ष जांच करने को आश्वस्त कर दिया गया था।

See also  भारतीय किसान यूनियन लोकशक्ति द्वारा किसानों की समस्याओं को लेकर डीएम को दिया ज्ञापन

यह घटना समाधान दिवस की उपयोगिता और कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिह्न खड़ा करती है। यदि शिकायतकर्ताओं को न्याय नहीं मिलता और उन्हें आत्महत्या का रास्ता अपनाने पर मजबूर होना पड़ता है, तो यह प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा करता है।

See also  नगर निगम चुनावः समाजसेवियों की क्षेत्रों में आई बाढ, समाज सेवा को सजे मंच
TAGGED: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,
Share This Article
Editor in Chief of Agra Bharat Hindi Dainik Newspaper
Leave a comment

Leave a Reply

error: AGRABHARAT.COM Copywrite Content.